वृद्धावस्था पेंशन योजना

उत्तर प्रदेश पेंशन योजना (यूपीपीएस) उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के विभिन्न वर्गों के लोगों को प्रदान की जाने वाली विभिन्न पेंशन योजनाओं का एक संग्रह है। इन योजनाओं का उद्देश्य राज्य के वरिष्ठ नागरिकों, विधवाओं, दिव्यांगों और अन्य जरूरतमंद लोगों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना है।

यूपी पी  के अंतर्गत आने वाली पेंशन योजना कुछ  इस प्रकार हैं:

  • वृद्धावस्था पेंशन योजना (ओएपीएस): इस योजना के तहत 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों को प्रति माह 500 रुपये की पेंशन प्रदान की जाती है।

Offecel websiteClick Here
वृद्धावस्था पेंशन हेतु 
Click Here
Allwebside.comClick Here
  • निराश्रित  महिला पेंशन योजना भारत सरकार द्वारा गरीब और जरूरतमंद महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए शुरू की गई एक सामाजिक सुरक्षा योजना है। इस योजना के तहत, 18 से 60 वर्ष की आयु की महिलाओं को, जिनकी पति की मृत्यु हो गई है या जिन्होंने तलाक ले लिया है या जिनका पति उन्हें छोड़कर चला गया है, को हर महीने 1000 रुपये की पेंशन प्रदान की जाती है।
    <!----><!----><!----><!----><!----><!----><!----><!---->

    यह योजना भारत के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लागू है। योजना के लाभार्थियों को पेंशन प्राप्त करने के लिए, उन्हें निम्नलिखित पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा:


    • महिला की आयु 18 से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

    • पति की मृत्यु हो गई हो या महिला ने तलाक ले लिया हो या पति उसे छोड़कर चला गया हो।

    • महिला गरीब और जरूरतमंद होनी चाहिए।

    पेंशन प्राप्त करने के लिए, महिला को संबंधित जिले के समाज कल्याण कार्यालय में आवेदन करना होगा। आवेदन के साथ, महिला को निम्नलिखित दस्तावेज जमा करने होंगे:


    • पहचान प्रमाण जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, आदि।

    • निवास प्रमाण जैसे राशन कार्ड, बिजली बिल, आदि।

    • पति की मृत्यु प्रमाण पत्र या तलाक का प्रमाण पत्र।


    आवेदन प्राप्त होने के बाद, समाज कल्याण अधिकारी आवेदन की जांच करेंगे और पात्रता के आधार पर महिला को पेंशन प्रदान करेंगे।

    निराश्रित महिला पेंशन योजना एक महत्वपूर्ण योजना है जो गरीब और जरूरतमंद महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करती है। यह योजना महिलाओं को अपने जीवन यापन का खर्च उठाने और अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार करने में मदद करती है।


  • दिव्यांग पेंशन योजना (डीपीएस): इस योजना के तहत 40% या उससे अधिक विकलांगता वाले व्यक्तियों को प्रति माह 1000 रुपये की पेंशन प्रदान की जाती है।


  • कन्या सुमंगला योजना (केएसवाई): इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) परिवारों में जन्म लेने वाली लड़कियों को उनके माता-पिता को विभिन्न चरणों में वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।


  • राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना (एनएफबीएस): इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) परिवारों में कमाने वाले सदस्य की मृत्यु होने पर परिवार के अन्य सदस्यों को प्रति माह 2000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।


  • यूपीपीएस के अंतर्गत आने वाली विभिन्न योजनाओं के लिए पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया अलग-अलग हैं। अधिक जानकारी के लिए, आप अपने नजदीकी समाज कल्याण विभाग के कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं।